asliazadi
दमन, दानह, दीव की खबरें

दादरा नगर हवेली में धीरे-धीरे महामारी का रूप लेता जा रहा है डेंगू

असली आजादी न्यूज नेटवर्क, सिलवासा 5 अक्टूबर। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली में पिछले एक महीने से भी अधिक समय से डेंगू की रफ्तार तेजी से आगे बढ़ रही है लेकिन संबंधित एजेंसियां डेंगू के रोकथाम के लिए कोई बड़ा कदम उठाती नहीं दिख रही है जिससे आए दिन डेंगू से मरने वालों की संख्या तेजी से बढ रही है पिछले कुछ दिन में ही कई लोगों की मौत ने दादरा नगर हवेली के लोगों को दहला कर रख दिया है। जिसमें सिलवास नगर पालिका का एक कर्मचारी भी शामिल है जो डेंगू के चपेट में आने के 2 दिन के बाद ही उसकी मौत हो गई वहीं मसाट में 23 साल के बच्चों की मौत ने पूरे दादरा नगर हवेली को झकझोर कर रख दिया है। स्थानीय स्तर पर लोगों द्वारा बताया जा रहा है कि बरसाती रोगों के रोकथाम के लिए जिस तरह से पहले स्वास्थ्य विभाग सतर्कता से कदम उठाता था और रोगों को कम करने के लिए और बरसाती रोगों से निपटने के लिए जो उपाय किए जाते थे वह उपाय अब ना तो विभाग द्वारा किया जा रहा है और ना ही नगर पालिका द्वारा कुछ किया जा रहा है लोगों का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग पहले बरसात के दिनों में और बरसात के बाद जिस तरह से मच्छरों और उससे संबंधित उत्पन्न होने वाले रोगों से निपटने के लिए छिड़काव किया करता था वह अब कहीं दिखाई नहीं देता है भले ही इसकी ंजिम्मेदारी नगर पालिका के कंधों पर डाली गई हो लेकिन स्वास्थ्य विभाग अपनी जिम्मेदारियां से बच नहीं सकता है क्योंकि जब कोई भी रोग महामारी का रूप लेने लगता है तो उसकी पूरी जिम्मेदारी नगर पालिका स्वास्थ्य विभाग और पूरे प्रशासन की हो जाती है ऐसे में तेजी से बढ़ रहे डेंगू को अगर नियंत्रित करने के लिए प्रशासन आगे नहीं आता है तो यह रोग दादरा नगर हवेली में महामारी का रूप ले सकता है क्योंकि आए दिन हो रही तेजी से मौतों के बाद भी न तो नगर पालिका और ना ही स्वास्थ्य विभाग डेंगू के रोकथाम के लिए उचित कार्रवाई कर रहा है वहीं दूसरी ओर स्काउट गाइड जैसी प्राइवेट एजेंसियां स्वास्थ्य विभाग से मिलकर डेंगू के रोकथाम के लिए पिछले कुछ दिनों से विशेष स्वास्थ्य जागरूकता अभियान चला रहे हैं लेकिन यह डेंगू के रोकथाम के लिए सार्थक उपाय नहीं हो सकते क्योंकि जहां पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों की आवश्यकता होती है वहां नागरिक संगठनों अथवा स्वयं सेवी संस्थाओं के माध्यम से वेक्टर जनित रोगों पर नियंत्रण पाना मुश्किल होगा इसके लिए स्वयं स्वास्थ्य विभाग और उसके विशेषज्ञों को जमीनी स्तर पर उतरकर डेंगू के रोकथाम के लिए विशेष पहल करनी होगी नहीं तो आने वाले दिनों में यह रोग पूरी तरह से दादरा नगर हवेली में एक महामारी का रूप ले लेगा।

Related posts

भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में फिर एक बार मोदी सरकार का गुरु मंत्र लेकर लौटे संघ प्रदेश थ्रीडी और वलसाड जिला के भाजपाई

Vijay Bhatt

क्षेत्रीय पंचायती राज परिषद में जनप्रतिनिधियों को चुनाव जीतने का मिला मंत्र

Vijay Bhatt

प्रशासक प्रफुल पटेल के विकासीय परियोजनाओं के दौरे में राम सेतु और नमो पथ को जोडने वाले नेकलेश ब्रिज की प्रस्तावित डिजाइन की तस्वीरें आई सामने

Vijay Bhatt

Leave a Comment