asliazadi
दमन, दानह, दीव की खबरें

बापू के स्वच्छता और स्वावलंबन सिद्धांत को पीएम मोदी ने बढाया है आगे : प्रशासक प्रफुल पटेल

– महात्मा गांधी की 153वीं जयंती पर दमणवासियों ने बापू को किया याद : प्रशासक प्रफुल पटेल ने अर्पित की पुष्पांजलि – बापू के उत्तम चरित्र, सद्गुणों के भंडार, राष्ट्रभक्ति, जन-साधारण के उत्थान के लिए किये गये अनेक प्रयासों के चलते पूरे विश्व का सर उनके समक्ष आज भी झुकता है: प्रशासक प्रफुल पटेल – दमण में पिछले 6 सालों में स्वच्छता अभियान के कारण आये बदलाव के लिए प्रशासक प्रफुल पटेल ने दमणवासियों को दिया अभिनंदन – प्रशासक प्रफुल पटेल ने पिछले दो दिनों से सरकारी कार्यालयों, स्कूलों, कॉलेजों, स्वास्थ्य केंद्रों, अस्पतालों में चलाये गये सफाई अभियान के लिए आईएएस, आईपीएस, दानिक्स, स्थानीय अधिकारियों, शिक्षकों, स्वास्थ्य कर्मियों एवं अन्य सरकारी कर्मचारियों को दी बधाई – प्रशासक प्रफुल पटेल ने खादी उत्पादों की प्रदर्शनी का किया उद्घाटन – जिला कलेक्टर ने सभी अतिथियों को दिलाई अहिंसा की शपथ – दमण-दीव सांसद लालू पटेल, दमण जिला पंचायत प्रमुख नवीन पटेल, डीएमसी प्रेसिडेंट सोनल पटेल, दमण-दीव के प्रथम सांसद गोपाल टंडेल (दादा), पूर्व सांसद देवजी टंडेल, दमण-दीव जिला पंचायत की पूर्व प्रमुख तरुणा पटेल सहित के जनप्रतिनिधियों ने पूज्य बापू को अर्पित की पुष्पांजलि
असली आजादी न्यूज नेटवर्क, दमण 02 अक्टूबर। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली और दमण एवं दीव के प्रशासक प्रफुल पटेल के मार्गदर्शन में महात्मा गांधी की 153वीं जन्म जयंती के उपलक्ष्य में आज दमण में समुद्रनारायण मंदिर के निकट विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सुबह 10:30 बजे आयोजित इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रुप में प्रशासक प्रफुल पटेल उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरुआत में प्रशासक प्रफुल पटेल, सांसद लालू पटेल एवं अन्य अतिथियों द्वारा महात्मा गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। तत्पश्चात गांधीजी के प्रिय भजनों पर गोविंद बारोड की भजन मंडली द्वारा शानदार भजन पेश किया गया। इसी क्रम में दमण के विभिन्न सरकारी कॉलेजों के छात्र- छात्राओं द्वारा महात्मा गांधी जी के सिद्धांतों एवं जीवन पर बखूबी नाट्य की प्रस्तुति की गई। प्रशासक प्रफुल पटेल ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज का दिन न सिर्फ देश के लिए नहीं बल्कि समग्र विश्व, समग्र मानव जाति के लिए प्रेरणा लेने के लिए उत्तम अवसर है। विशेषतौर पर देशवासियों के लिए आज के दिन का अधिक महत्व है क्योंकि आज के दिन महात्मा गांधी (बापू) का जन्मदिन है और साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का भी जन्मदिन है। उन्होंने कहा कि आज के इस पावन अवसर पर मैं दोनों ही महान पुरुषों को शत-शत नमन करता हूं। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि आज मात्र भारत देश ही नहीं अपितु पूरा विश्व बापू के सामने नमन करता है। उन्होंने कहा कि स्वाभाविक रूप से हमारा सिर भगवान के चरणों, बुजुर्गों एवं शिक्षकों, माता-पिता के समक्ष झुकता है परंतु बापू के समक्ष उनके उत्तम चरित्र, सद्गुणों के भंडार, राष्ट्रभक्ति, जन-साधारण के उत्थान के लिए अनेक प्रयासों के चलते झुकता है। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि बापू की 1915 से 30 वर्षों की यात्रा वह देश के लिए विशेष प्रेरणास्त्रोत रही है। उन्होंने बापू के रेल यात्रा को रेखांकित करते हुए कहा कि बापू के पास प्रथम श्रेणी की टिकट होने के बावजूद उन्हें ट्रेन से बाहर निकाल दिया गया था क्योंकि वे भारतीय थे, गोरे-काले के भेद के चलते उनके साथ अन्याय किया गया था। यह घटना उनके जीवन में नए मोड लेकर आई। प्रशासक ने इस घटना को रेखांकित करते हुए कहा कि पूज्य बापूजी ने अस्पृश्यता हेतु जो आंदोलन चलाया था उसमें से हमें भी प्रेरणा लेकर संकल्प करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि पूज्य बापू की इस बात से मैं शत प्रतिशत सहमत हूँ। उन्होंने कहा कि जो सफाई कर्मी हमारे द्वारा फैलाई गई गंदगी को साफ करते हैं उन्हें हम अस्पृश्य समझते हैं यह कैसा न्याय है? उन्होंने कहा कि अब समय बदल गया है और अस्पृश्यता की जो बात है उससे मुक्त होने हेतु हम सब को संकल्प करने की आवश्यकता है। प्रशासक प्रफुल पटेल ने गांधीजी के 11 प्रण -अहिंसा, सत्य, अस्तेय, ब्रह्मचर्य, असंग्रह, शरीर श्रम, अस्वाद, सर्वत्र भयवर्जन, सर्व धर्म समानत्व, स्वदेशी, स्पर्शभावना, विनम्र व्रत निष्ठा के बारे में भी सभी को बताया। गांधीजी के मूल्य सिद्धांतों में से एक स्वच्छता को रेखांकित करते हुए प्रशासक ने कहा कि दिल्ली के लाल किले से देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसको बढ़ावा दिया है। प्रशासक ने कहा कि मैंने आज से 6 वर्ष पूर्व का दमण भी देखा है और 6 वर्ष पूर्व का दमण का समुद्री इलाका भी देखा है परंतु आप सबके सहयोग से दमण का ऐतिहासिक विकास हुआ है जिसके लिए मैं यहां बैठे सभी को अभिनंदन देता हूँ। पड़ोसी राज्यों को स्वच्छता के जो मापदंड हैं वो संघ प्रदेशों से सीखने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पूज्य बापू का स्वच्छता का मंत्र दमण के नागरिकों द्वारा चरितार्थ किया गया है। देश आज यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में आत्मनिर्भरता की दिशा में खूब तेजी से भाग रहा है। उन्होंने कहा कि इस देश के लिए मर मिटने का सौभाग्य हमें नहीं मिला है परंतु देश के लिए जीने और कुछ कर दिखाने का अवसर हम सभी को प्राप्त हुए है। उन्होंने कहा कि इस देश के वैभव के विषय में हमने सिर्फ बनावटी इतिहासकारों द्वारा किताबों में पढ़ा होगा यह देश अनपढ़ों का देश था, यह देश गरीबी का देश था, इस देश में कोई प्रकार की वैभव सुविधा नहीं थी परंतु एक बार इतिहास को खंगालने की जरूरत है वास्तविकता का अंदाज होगा। प्रशासक ने कहा कि इसी देश में 17 बार मोहम्मद गजनी द्वारा सोमनाथ के मंदिर को लूटा गया था तो सभी को सोचने की आवश्यकता है कि कितना वैभव है इस देश में। इंग्लैंड की महारानी के मुकुट में भी इस देश का कोहिनूर जड़ा हुआ है। हमारे देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर बनाने हेतु प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी सतत प्रयत्नशील हैं। परंतु 200 वर्ष के अंग्रेजी शासनकाल में अंग्रेजों द्वारा 45 ट्रिलियन डॉलर लूटा गया है तो जरा सोचिए इस देश का वैभव कैसा है। उन्होंने बताया कि देश आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर अमृत महोत्सव बना रहा है। आगामी 25 वर्ष देश के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। आगामी 25 वर्षों में हमारे देश को विश्व गुरु के स्थान पर पहुंचाने की जवाबदेही न केवल प्रधानमंत्री मोदी की है बल्कि यहां उपस्थित हम सभी की भी है। प्रशासक प्रफुल पटेल कहा कि पूज्य बापू और प्रधानमंत्री के स्वच्छता के आह्वान से जुडने हेतु मैं सभी का अभिनंदन व्यक्त करता हूँ। सभी सरकारी कार्यालयों, सरकारी इमारतों एवं सरकारी स्कूलों स्वच्छता अभियान में जुडने के लिए सभी अधिकारियों को उन्होंने अभिनंदन दिया। महात्मा गांधी के स्वप्न रामराज्य पर बात करते हुए प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि नागरिकों के समूह द्वारा निर्मित देश ही रामराज्य की कल्पना है। इसके पहले दमण-दीव सांसद लालू पटेल ने अपने उद्बोधन में कहा कि समुद्रनारायण मंदिर के निकट इस पावन भूमि में कार्यक्रम आयोजित करने हेतु मैं प्रशासक प्रफुल पटेल का आभार व्यक्त करता हूं। सांसद लालू पटेल ने कहा कि गांधीजी ने हमारे देश के लिए अंग्रेजों के सामने लड़ाई लड़ी थी जिसके वजह से ही हमारे देश को आजादी प्राप्त हुई है। सांसद ने सभी को गांधीजी के आदर्शों के बारे में भी बताया। इसी क्रम में दमण जिला समाहर्ता डॉ. तपस्या राघव द्वारा सभी अतिथियों को शांति और सांप्रदायिक सद्भाव के लिए प्रतिज्ञा भी दिलाई गयी। इस दौरान प्रशासक प्रफुल पटेल ने नानी दमण जेटी पर खादी उत्पादों की खादी गली का रिबन काटकर उद्घाटन भी किया और सभी स्टालों का भ्रमण भी किया। कार्यक्रम के दौरान स्वच्छता में विशेष योगदान देने के लिए प्रशासक प्रफुल पटेल ने कचीगाम पंचायत, डीएमसी वॉर्ड नं. 5 और बीडीओ कार्यालय सहित विभिन्न विभागों को प्रशंसा पत्र दिया। कचीगाम पंचायत की ओर से सरपंच भरत पटेल और पंचायत सेक्रेटरी शिवांग पटेल, डीएमसी वॉर्ड नं.5 की काउंसिलर रश्मी हलपति, बीडीओ कार्यालय की ओर से बीडीओ प्रेमजी मकवाणा ने प्रशंसा पत्र प्राप्त किया। इस मौके पर पूरे सप्ताह चले विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया। इस कार्यक्रम में संघ प्रदेश थ्रीडी भाजपा अध्यक्ष दीपेश टंडेल, दमण जिला पंचायत प्रमुख नवीन पटेल, नगरपालिका परिषद की अध्यक्षा सोनल पटेल, दमण-दीव के प्रथम सांसद गोपाल टंडेल (दादा), पूर्व सांसद देवजी टंडेल, भाजपा नेता विशाल टंडेल, दमण-दीव जिला पंचायत की पूर्व प्रमुख तरुणा पटेल, डीआईए प्रेसिडेंट पवन अग्रवाल, दमण होटेलियर एसोसिएशन प्रेसिडेंट गोपाल टंडेल (मीरामार), डीआईए के पूर्व प्रेसिडेंट रमेश कुंदनानी, दमण मुस्लिम एसोसिएशन प्रेसिडेंट खुर्शीद मांजरा, दमण माछी महाजन प्रमुख प्रवीण मिठला, सरपंचों, जिला पंचायत सदस्यों, काउंसिलरों, ग्राम पंचायत सदस्यों, समाज के अग्रणियों, प्रशासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों, छात्रों एवं नागरिकों की उपस्थिति रही। उल्लेखनीय है कि महात्मा गांधीजी की 153वीं जयंती के उपलक्ष्य में प्रशासक प्रफुल पटेल के कुशल नेतृत्व में पूरे प्रदेश में प्रभात फेरी, निबंध स्पर्धा, चित्रकला स्पर्धा, सफाई अभियान प्रतियोगिता एवं अन्य विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

Related posts

समुद्र को किनारे से मिली सौंदर्यता

Vijay Bhatt

दमण-दीव के पूर्व सांसद स्व. डाह्याभाई पटेल की प्रथम पुण्यतिथि पर उनके पुत्र जिज्ञेश पटेल और पुत्रवधु हिताक्षी पटेल ने दमण की गौ शालाओं में गौ सेवा की

Vijay Bhatt

राज्य कानूनी सेवा प्राधिकरण दमण ने दाभेल के धर्मिशा पार्क में कानूनी जागरुकता शिविर का किया आयोजन

Vijay Bhatt

Leave a Comment