asliazadi
दमन, दानह, दीव की खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कृपादृष्टि से दादरा नगर हवेली अब परिवर्तन के नए मार्ग पर है: प्रशासक प्रफुल पटेल

– प्रशासक प्रफुल पटेल ने 7 पंचायत भवनों का किया शिलान्यास – कौंचा पंचायत में पहली बार हुई विशाल जनसभा में प्रशासक प्रफुल पटेल ने दानह की जनता के सामने खुलकर रखा अपने 6 वर्षों के कार्यकाल का हिसाब – ग्राम पंचायतें लोकतंत्र की बुनियादी इकाई के साथ-साथ ग्राम सचिवालय होती है: प्रफुल पटेल – संघ प्रदेश में इसी सत्र से शुरू होगा नेशनल लॉ कॉलेज – दादरा नगर हवेली में फैशन कॉलेज भी इसी सत्र से शुरू करने की घोषणा की – खानवेल तहसील में इसी सत्र से शुरू हो जाएगा आईटीआई का नया कॉलेज – सिलवासा की तरह खानवेल को भी मिलेगा रिवरफ्रंट की सौगात – सिलवासा स्थित श्री विनोबा भावे सिविल अस्पताल को 850 बेड में किया जाएगा परिवर्तित दिल्ली एम्स जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराएगा प्रशासन: प्रफुल पटेल – दादरा नगर हवेली में पिछले 6 वर्षों में 2200 करोड़ की जनकल्याणकारी योजनाओं को किया गया है क्रियान्वित – वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत 5226 लोगों को दिया गया है जमीन का पट्टा – वसोणा के पाटी में विश्वस्तरीय आयुर्वेदिक चिकित्सा संस्थान शुरू करेगा संघ प्रशासन – कौंचा जमालपाडा में विश्व स्तरीय चिड़ियाघर बनाने की शीघ्र होगी शुरुआत – उज्जवला योजना के तहत 11000 लोगों को दी गई है गैस और रसोई कीट – किसान सम्मान निधि योजना के तहत दादरा नगर हवेली में 11000 किसानों को दिया गया है 21 करोड़ रुपए का निधि सम्मान: प्रफुल पटेल – शत प्रतिशत नागरिकों को दिया गया है प्रधानमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना, हर घर को दिया गया है शौचालय – दादरा नगर हवेली में प्रत्येक बेघर को उपलब्ध करा दिया गया है घर बाकी रह गए लोगों को भी घर उपलब्ध कराने की वचनबद्धता – दादरा नगर हवेली में 1245 लोगों के अलावा हर घर को नल जल योजना से किया गया है लाभान्वित – गीर गाय पालन योजना के तहत 550 लाभार्थियों को 800 गाय 50% के सब्सिडी पर कराई गई है उपलब्ध: प्रशासक – पंचायत में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए 50% किया गया है महिलाओं का कोटा – महिला सशक्तिकरण को पुख्ता बनाने के लिए पुलिस प्रशासन के अलावा सभी सरकारी विभागों में 33% आरक्षण किया गया सुनिश्चित – स्वावलंबन योजना के तहत महिला मंडलों को प्रशिक्षित कर किया जा रहा है आर्थिक रूप से संपन्न – प्रशासक प्रफुल पटेल ने कौंचा पंचायत से सुरंगी, खेरडी, गलोंडा, मसाट, कौंचा, सायली, सिंदोनी पंचायत भवनों का किया शिलान्यास – दादरा नगर हवेली में 20 में से 9 पंचायतों को आधुनिक पंचायत घर उपलब्ध कराने के लिए प्रशासन तैयार और पुरानी पंचायतों को भी जरूरत पड़ने पर मिलेगा अपना पंचायत भवन: प्रशासक
असली आजादी न्यूज नेटवर्क, सिलवासा 23 जून। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली और दमण-दीव में पिछले 6 वर्षों से प्रशासक के तौर पर कार्यभार संभाल रहे प्रफुल पटेल ने आज दादरा नगर हवेली में अपने 6 वर्षों के कार्यकाल का लेखा-जोखा रखने के लिए एक बड़े जनसभा को उस समय संबोधित किया जब वे लोकतंत्र के सबसे बड़ी इकाई पंचायत भवनों के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल ने दादरा नगर हवेली के 7 पंचायत को आधुनिकतम पंचायत भवन की सौगात देते हुए कहा कि दादरा नगर हवेली में और दमण-दीव में प्रशासक के तौर पर कार्य करते मुझे लगभग 6 वर्ष पूरे हो गए हैं। ऐसे में उनका दायित्व बनता है कि जनता भले ही उनसे उनके कार्यकाल का हिसाब ना मांगे लेकिन वह जनता के सामने अपने कार्यकाल का हिसाब अवश्य देंगे और उनकी इस कार्यकाल में उनकी प्रशासनिक टीम, चुने हुए जनप्रतिनिधि तथा दादरा नगर हवेली और दमण-दीव की जनता ने जो सहयोग दिया है वह इसके लिए सदैव आभारी रहेंगे। प्रशासक प्रफुल पटेल ने अपने वक्तव्य में कहा कि दादरा नगर हवेली पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विशेष कृपा रही है, यहीं कारण है कि कुछ ही वर्षों में दादरा नगर हवेली का कायाकल्प हो गया है। पिछले 70 वर्षों से दादरा नगर हवेली को जहां पीने का पानी नहीं था वहां पर परिवर्तन देखा जा रहा है कि दादरा नगर हवेली के आखिरी गांव कौंचा की एक आदिवासी बेटी कहती है कि वह फाइटर प्लेन का पायलट बनना चाहती है। दादरा नगर हवेली का प्रशासन उसके इस सपने को पूरा करने के लिए पूरी तरह से कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि रांधा में बनने वाला सैनिक स्कूल ऐसे आदिवासी बच्चियों के सपने को अवश्य पूरा करेगा। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि पिछले 6 सालों में उन्होंने लगभग 2200 करोड रुपए की जनकल्याणकारी योजनाओं से दादरा नगर हवेली की जनता को लाभान्वित किया है और यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बिना संभव होना नामुमकिन था। उन्होंने कहा कि पिछले 70 सालों में दादरा नगर हवेली के आदिवासियों के साथ सिर्फ अन्याय हुआ है और वह लोगों के द्वारा सिर्फ भ्रमित किए गए उन्हें विकास के नाम पर कुछ भी नहीं दिया गया। प्रफुल पटेल ने कहा कि अब वह दिन बीत गया है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कारण आज दादरा नगर हवेली विकास के एक नए ऐतिहासिक बदलाव के मार्ग पर है और आने वाले दिनों में दादरा नगर हवेली विकास का दूसरा नाम होगा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्ष पहले दादरा नगर हवेली के 10 पंचायतों को अलग-अलग कर 20 पंचायतें बनाई गई थी और 10 वर्षों से इन पंचायतों के पास अपना खुद का भवन नहीं है। जबकि लोकतंत्र की पहली इकाई पंचायत ही होती है, अगर पंचायत मजबूत नहीं है तो हम लोकतंत्र के मजबूत क्रियान्वयन को नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह इस बात को महसूस करते हैं कि पंचायतों का आधुनिकीकरण हो इसीलिए 4 करोड़ 70 लाख की लागत से आज 7 पंचायतों के भवनों के निर्माण के शिलान्यास किया जा रहा है और आने वाले समय में 9 पंचायतों को उनका अपना नया पंचायत भवन उपलब्ध कराया जाएगा। पंचायत भवन किसी भी ग्राम पंचायत का सचिवालय होता है। ऐसे में आधुनिकतम समय में आधुनिक सुविधा युक्त पंचायत भवन उपलब्ध कराना प्रशासन की जिम्मेदारी है। यहीं कारण है कि नए पंचायत भवनों में सरपंच कार्यालय के अलावा जिला पंचायत सदस्य का कार्यालय, कांफ्रेंस हॉल, एटीएम सुविधा, सरल सेवा केंद्र तथा गेस्ट रूम और प्रतीक्षा रूम भी पंचायत भवनों में बनाया जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिन पुरानी पंचायतों को अगर जरूरत है कि उन्हें भी नया भवन मिलना चाहिए तो वह भी प्रशासन के समक्ष अपने प्रस्ताव प्रस्तुत कर सकते हैं। प्रशासक प्रफुल पटेल ने बताया कि दादरा नगर हवेली में पिछले वित्तीय वर्ष में 350 करोड़ जिला पंचायत के माध्यम से खर्च किए गए हैं। अगर लोगों को इसके बाद भी पीने के पानी के लिए जहमत उठानी पड़ रही है तो हमें अपने क्रियान्वयन को एक बार पुन: अवलोकन करने की जरूरत है और उन्होंने अधिकारियों को निर्देश भी दिया है कि पहली प्राथमिकता लोगों को शुद्ध जल उपलब्ध कराने की होगी, जिससे कि लोग विभिन्न प्रकार की बीमारियों से बच सकें। प्रफुल पटेल ने कहा कि दादरा नगर हवेली आने वाले दिनों में विकास के एक नए द्वार पर पहुंचेगा जहां पर हर तरफ खुशहाली होगी। क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके माध्यम से जो विकास का क्रियान्वयन करवाया है वह आने वाले दिनों में दादरा नगर हवेली को विकास का पर्याय बनाएगा। प्रशासक प्रफुल पटेल ने बताया कि दादरा नगर हवेली में किसान निधि सम्मान योजना के तहत अभी तक 21 करोड़ रुपये किसानों को दिए गए हैं। वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत स्वयं प्रधानमंत्री ने 5226 लोगों को जंगल के जमीन का पट्टा दिया है उसके पूर्व भी 4000 लोगों को जंगल अधिनियम एक्ट के तहत खेती का अधिकार दिया गया था। दादरा नगर हवेली में डोर टू डोर सर्वे कराकर अधिकतम घरों को नल जल योजना के तहत जोड़ा जा चुका है और 1245 घर अभी तक इस योजना से वंचित है उन्हें भी आने वाले समय में जोड़ दिया जाएगा। दादरा नगर हवेली के सभी सड़कों का फोरलेन विकास किया जाएगा, जिसमें सिलवासा से खानवेल, खानवेल से दुधनी और खानवेल से मांदोनी तथा खानवेल से आंबोली और अंबोली से खेरड़ी मार्ग को भी फोरलेन में परिवर्तित किया गया। दादरा नगर हवेली के युवाओं को सक्षम और उच्च शिक्षा देने के लिए अभी तक नमो मेडिकल कॉलेज के अलावा पैरामेडिकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज की सौगात दी गई है। इसके अलावा अब फैशन कॉलेज और नेशनल लॉ कॉलेज की सौगात आने वाले दिनों में इस एकेडमिक सत्र से शुरू कर दी जाएगी। जबकि खानवेल को सिलवासा की तर्ज पर रिवरफ्रंट का भी सौगात मिलेगा और खानवेल चार रस्ता से लेकर के बटरफ्लाई गार्डन तक पूर नए सिरे से विकसित किया जाएगा। जमालपाड़ा में नए बायोलॉजिकल पार्क चिड़ियाघर विकसित किया जाएगा, जिससे टूरिज्म बढ़ेगा। सिलवासा अस्पताल को दिल्ली के एम्स की तर्ज पर विकसित किया जाएगा और अब उसे 850 बेड में परिवर्तित कर दिया जाएगा। दादरा नगर हवेली के वसोणा में नए आयुर्वेदिक चिकित्सा संस्थान को खोलने की मंजूरी दे दी गई और जो कुछ ही दिनों में खुल जाएगा। हायर सेकेंडरी के विकास के लिए 12 नए स्कूल बनाए गए हैं जिसमें रांधा, मांदोनी, सिंदोनी आधुनिकतम हॉस्टल भी बनाए गए हैं। किसानों को सबल और सशक्त और आर्थिक रूप से संपन्न बनाने के लिए गीर गाय योजना के तहत 550 किसानों को 800 गाय 50% की सब्सिडी पर उपलब्ध कराई गई है और उनसे मिलने वाले दूध को प्रशासन खुद खरीदता है, जिसे 45 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से खरीदा जा रहा है। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि पिछले 6 वर्षों में उन्होंने दादरा नगर हवेली के विकास के लिए जो भी प्रयास किए हैं वह सभी के सहयोग से ही संभव हो सका है खासकर चुने हुए जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की उनकी टीम के रात दिन के मेहनत के कारण ही आज मैं दादरा नगर हवेली में जनता के सामने प्रस्तुत होकर अपने 6 वर्ष के हिसाब किताब को बड़े गर्व के साथ रखने में योग्य समझ रहा हूं। क्योंकि जनता अगर उनके हिसाब को नहीं मांगना चाहती फिर भी उनका दायित्व बनता है कि वह अपने किए गए कार्यों का जनता के सामने हिसाब रखें। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि वह योजनाओं का क्रियान्वयन और दादरा नगर हवेली का विकास किसी राजनीतिक लाभ के लिए नहीं कर रहे हैं वह सिर्फ 70 वर्ष के इस कलंक को धोना चाहते हैं जहां पर लोग एक टॉयलेट बनाने के लिए भी सक्षम नहीं थे। उन्होंने कहा कि इतने दुख की बात है कि 6000 की आबादी वाले कौंचा पंचायत को सीधे कनेक्टिविटी नहीं थी और इतने वर्षों बाद उन्हें पुल नसीब हुआ है। इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल ने इशारों ही इशारों में पूर्ववर्ती सरकारों को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि पिछले 70 सालों में दादरा नगर हवेली की आदिवासी प्रजा के साथ सिर्फ और सिर्फ धोखाधड़ी की जा रही थी और उन्हें विकास के नाम पर कुछ भी नहीं दिया जा रहा था, अलबत्ता कुछ लोग उनकी जमीनों पर कब्जा कर रहे हैं। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि आदिवासी समाज की जमीनों पर गैर कानूनी तरीके से कब्जा कर लेने वाले लोग अब संभल जाए और उन्हें एक 1 इंच का जवाब देना होगा कि उन्होंने किस तरह से आदिवासी समाज की जमीनों को पर कब्जा किया है। उन्होंने कहा कि अगर हम आदिवासी समाज को कुछ दे नहीं सकते हैं तो किस हक से उनकी जमीनों को हड़पा गया है। प्रशासक ने कहा कि लगभग 60% आदिवासी समाज की आबादी वाले दादरा नगर हवेली में जब उन्होंने पहली बार कदम रखा तो सबसे पहले उन्होंने आदिवासी समाज के कल्याण के लिए आदिवासी कल्याण बोर्ड का गठन किया और उन्हीं के माध्यमों से इतनी योजनाओं का क्रियान्वयन कराने में सफल रहे हैं और आने वाले दिनों में भी समर्पित तरीके से लोगों के सहयोग से आदिवासी समाज के उत्थान और विकास के प्रति कार्य करते रहेंगे। इस कार्यक्रम में प्रशासक के सलाहकार अनिल कुमार सिंह, डीआईजी मिलिंद महादेव दुमबेरे, वित्त सचिव गौरवसिंह राजावत, जिला अधिकारी डॉ. राकेश मिन्हास, पुलिस अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद मीणा के अलावा अधिकारियों की पूरी टीम प्रमुख रूप से उपस्थित रही। इसके अलावा जिला पंचायत अध्यक्षा निशा भावर, नगरपालिका अध्यक्ष राकेशसिंह चौहान, पूर्व सांसद सीताराम गवली, महेश गावित, औद्योगिक फेडरेशन के अध्यक्ष संजीव कपूर, अतुल शाह, अजीत यादव, के. टी. परमार सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Related posts

प्रशासक प्रफुल पटेल ने सेल्फ हेल्प ग्रुप की महिलाओं द्वारा निर्मित पापड, आचार, मशरुम की बिक्री के लिए व्यवस्था तैयार करने का दिया निर्देश

Vijay Bhatt

भाजपा युवा नेता महेश गावित की अगुवाई में खानवेल तहसील के कार्यकर्ताओं की हुई बैठक

Vijay Bhatt

प्रशासक प्रफुल पटेल ने दमण और सिलवासा में नए ट्राइब्स आउटलेट का किया उद्घाटन

Vijay Bhatt

Leave a Comment