asliazadi
देश

धरमपुर के हथनबारी गांव में 25 आदिवासी जोडों के समूह लग्न में उपस्थित रहे संघ प्रदेश थ्रीडी भाजपा ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष हरीश पटेल

असली आजादी न्यूज नेटवर्क, धरमपुर 23 मई। गुजरात के धरमपुर तालुका के आंतरिक क्षेत्र में स्थित आदिवासी बहुल गांव हथनबारी में आज श्री कृष्ण परिवार और विश्व विख्यात कथाकार मेहुल जानी द्वारा 25 आदिवासी जोडों के लिए समूह लग्न का आयोजन किया गया था। गरीब आदिवासी परिवार की 25 बेटियां और 25 बेटे कथाकार मेहुल जानी का आशीर्वाद लेकर शादी के अटूट बंधन में बंध गये। इस कार्यक्रम में खासतौर पर हाजिरी देने के लिए संघ प्रदेश दादरा एवं नगर हवेली और दमण-दीव भारतीय जनता पार्टी के ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष हरीश पटेल और उनके साथी पीयूष पटेल पहुंचे थे। श्री कृष्ण परिवार और कथाकार मेहुल जानी द्वारा भाजपा ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष हरीश पटेल का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। कथाकार मेहुल जानी द्वारा हरीश पटेल को इस नई जिम्मेदारी के लिए शुभकामनाएं भी दी गई। भाजपा ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष हरीश पटेल ने उनके स्वागत और अभिवादन के लिए श्री कृष्ण परिवार और कथाकार मेहुल जानी का आभार माना। उन्होंने कहा कि कथाकार मेहुल जानी की पहचान सेवाकीय कार्यों के कारण देश-विदेश में फैली हुई है। गरीब आदिवासियों की सेवा से ही मन को सच्ची खुशी मिलती है, कथाकार मेहुल जानी का यह सेवाकार्य सही में प्रशंसनीय है। आज इस अवसर पर कथाकार मेहुल जानी ने अपने वक्तव्य में कहा कि आज ये 25 गरीब आदिवासी बेटियों के चेहरे पर खुशी देखकर मुझे 12 ज्योतिलिंग के दर्शन जैसी अनुभूति हो रही है। जीव खुश रहेगा तभी शिव खुश रहेगा इस सूत्र को साकार करने के लिए श्री कृष्ण परिवार द्वारा यह 5वां समूह लग्न महोत्सव का आयोजन किया गया है। गौरतलब है कि आज आयोजित आदिवासी जोडों के समूह लग्न में श्री कृष्ण परिवार द्वारा सभी 25 बेटियों को अन्नदान पात्र एवं वस्त्रदान सहित सात से आठ हजार उपस्थितजनों के लिए भोजन की व्यवस्था श्री कृष्ण परिवार द्वारा की गई थी। हथनबारी गांव को कथाकार मेहुल जानी ने 10 साल से दत्तक लिया हुआ है। उनके द्वारा लगातार ऐसे ही सेवाकीय कार्य इस गांव में लगातार किये जाते रहे है। आज इसी गांव के हनुमंत युवक मंडल एवं आस-पास के 10 गांवों के भक्तजनों द्वारा श्री कृष्ण परिवार और कथाकार मेहुल जानी का आभान माना गया। इस कार्यक्रम में श्री कृष्ण परिवार के प्रमुख पीनेश पटेल, जयेश पटेल, भरत पटेल, दमण से पीयूष पटेल,संदीप पटेल, मनीष पटेल, रवि पटेल, उमेश सुकर पटेल, भालचंद कामली, मयंक पटेल एवं श्री कृष्ण परिवार के भाई-बहन एवं गांववासी बडी संख्या में उपस्थित रहे।

Related posts

प्रशासक प्रफुल पटेल का आदेश: पूरे भारत की तर्ज पर लक्षद्वीप के स्कूलों में रविवार को रहेगी छुट्टी

Vijay Bhatt

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी. नड्डा से मिले सांसद लालू पटेल

Vijay Bhatt

Pariksha Pe Charcha: ‘आगे क्या करना है’ सवाल को एक कान से सुनकर दूसरे से निकाल दें : पीएम मोदी

Vijay Bhatt

Leave a Comment