asliazadi
दमन, दानह, दीव की खबरें

संघ प्रदेश थ्रीडी के कर्मयोगी पुलिस कर्मियों के लिए दो दिवसीय ट्रेनिंग का हुआ शुभारंभ

असली आजादी न्यूज नेटवर्क, दमण 20 मई। दादरा नगर हवेली में भारत सरकार के गृह मंत्रालय एवं सीबीसी (केपेसिटी बिल्डिंग कमिशन) और नेशनल पुलिस अकेडमी हैदराबाद के दिशानिर्देश में कर्मयोगी पुलिसकर्मी का दो दिवसीय ट्रेनिंग का आज शुभारंभ हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर प्रवीण सिंह परदेसी जो सदस्य (प्रशासन) सीबीसी गृह मंत्रालय से निरीक्षक के तौर पर और दमण-दीव और दादरा नगर हवेली के डीआईजीपी डॉ. विक्रमजीत सिंह और डीआईजीपी मिलिंद दुंबरे, एसपी आर. पी. मीना, एसपी हरेश्वर स्वामी, एसडीपीओ सिद्धार्थ जैन सहित अधिकारी कार्यक्रम में उपस्थित थे। जिसमें मुख्य अतिथि ने बताया कि यह प्रोग्राम समाज के बीच पुलिस की समग्र छवि को सुधारने के लिए है और कर्मयोगी पुलिस व्यक्ति समाज के लिए निस्वार्थ भाव से काम करने वाला और एक आत्म-संतुष्ट सुखी व्यक्ति है। यह प्रोग्राम सभी संघ प्रदेश पुलिस के लिए चलाया जा रहा है, जिनसे आने वाले समय में हम एक विश्वसनीय पुलिस बल की स्थापना कर पायेंगे। डीआईजीपी विक्रमजीत सिंह ने बताया कि प्रशिक्षुओं को एनपीए नेशनल पुलिस अकेडमी से प्रशिक्षित किया गया है। उन्हें यह ट्रेनिंग सभी स्टाफ को देनी है। जनता की नजर में पुलिस की छवि में सुधार की जरूरत है और यह ट्रेनिंग प्रोग्राम उसके लिए मददरूप साबित होगा। ट्रेनिंग का सार निम्नलिखित है। हमारे समाज में लोग पुलिस को मिश्रित भावनाओं से देखते हैं, एक तरफ आम नागरिक को लगता है कि पुलिस और पुलिस बल ही उसकी रक्षा करते हैं। जानमाल की रक्षा करते हैं, न्याय सुनिश्चित कराते है, कानून और व्यवस्था बनाए रखते हैं। दूसरी ओर नागरिक उन स्थितियों के बारे में भी सुनते हैं। जहां पद का दुरुपयोग होता है, पुलिस अनुत्तरदायी होती है, या आम नागरिक की परवाह नहीं करती आदि। इस कार्यक्रम में हम खुद को एक सुरक्षित और शांतिपूर्ण समाज को बनाए रखने पुलिसकर्मी की अनूठी जिम्मेदारी की याद दिलाना चाहते हैं और साथ ही खुद को यह याद दिलाना चाहते हैं कि हमें जो शक्ति दी गई है सत्ता शक्ति नहीं है, बल्कि सेवा शक्ति है। नागरिक के जीवन में हमारे अपने जीवन में और पुलिस फोर्स में सकारात्मक फर्क लाने की शक्ति है। कर्मयोगी पुलिसकर्मी सेवा शक्ति का एक जीवंत प्रतीक है। जितना अधिक हम कर्मयोगी पुलिसकर्मी बनाते हैं। हमारी सेवा शक्ति उतनी ही अधिक प्रकट होती है। हम समाज पर उतना ही अधिक सकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं। उतनी ही अधिक आनंद और खुशी हम अपने जीवन में अनुभव करेंगे। इसके अलावा इससे हमारे और जिस समुदाय की हम सेवा कराते हैं, उसके बीच सकारात्मक सबंध बनेंगे और इससे समाज में पुलिस फोर्स की एक बेहतर सकारात्मक छवि बनेगी। यह ट्रेनिंग जो पिछले दिनों में नेशनल पुलिस अकेडमी हैदराबाद में हुई थी। जिसमें दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव से चार अफसर ट्रेनिंग के लिए गये थे। वह अभी संघ प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों को ट्रेनिंग दे रहे है।

Related posts

दीव के संयुक्त फिशरमैन ग्रुप ने प्रशासक प्रफुल पटेल से मिलकर माछीमारों की समस्या बताई

Vijay Bhatt

द दमण-दीव स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक लि. ने पहली तिमाही में 3 करोड 28 लाख का मुनाफा कमाया

Vijay Bhatt

दमण:खारीवाड की श्रीमद् भागवत कथा में आज कृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया

Vijay Bhatt

Leave a Comment