asliazadi
दमन, दानह, दीव की खबरें

दादरा एवं नगर हवेली में सड़क हादसे में तीन युवकों की दर्दनाक मौत से जिले में पसरा मातम

– 28 दिसंबर की रात 10 बजे मांदोनी सुकलीपाड़ा में बाइक से आमने-सामने हुई भीषण टक्कर में युवाओं ने मौके पर ही तोड़ा दम – दादरा नगर हवेली के ग्रामीण विस्तारों में सड़क हादसों में युवाओं के जान गंवाने का सिलसिला थमने का नहीं ले रहा है नाम, अभी तक 40 से अधिक युवाओं ने 1 वर्ष में गंवाई है अपनी जान
असली आजादी न्यूज नेटवर्क, सिलवासा 29 दिसंबर। दादरा नगर हवेली भले ही देश के मानचित्र में कहीं नजर नहीं आता हो लेकिन रोड एंड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री तथा गृह मंत्रालय के द्वारा जारी की जाने वाली सड़क हादसों की सूची में जनसंख्या के हिसाब से देश के टॉप 10 राज्यों में जरूर आता है। ऐसा क्यों हो रहा है अभी तक ना तो इस बारे में स्थानीय प्रशासन और पुलिस तथा रोड एंड ट्रैफिक विभाग और ना ही स्थानीय जागरूक जनता सोचने को तैयार हैं। जहां एक तरफ लोग इस समस्या की तरफ ध्यान नहीं दे रहे हैं वहीं दूसरी ओर धीरे-धीरे सड़क हादसों की यह समस्या कईयों के घर और आंगन को सुना करती जा रही है। 28 दिसंबर की रात लगभग 10 बजे जब लोग सोने की तैयारी कर रहे थे, उसी समय मांदोनी सुकलीपाड़ा मुख्य मार्ग पर हुए भयानक सड़क हादसे में 3 युवक अपनी जान गंवा चुके थे। खानवेल पुलिस थाना प्रभारी हरीश राठौड़ ने बताया कि घटना 28 दिसंबर की रात 10 बजे की है। जब खानवेल से बेडपा खोरीवाडा जा रहे एक युवक की मोटरसाइकिल की भिड़ंत बेडपा से आ रहे दूसरी बाइक जिस पर 4 लोग सवार थे और उनका मांदोनी सुकलीपाड़ा में आमने सामने टक्कर हो गई। इस टक्कर में मौके पर ही बेडपा खोरीपाडा निवासी अभिषेक वजू सांभर (25) की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं बेडपा का ही रहने वाले जयेश देवराम घटाल (17) की भी मौत मौके पर ही हो गई। जबकि सामने से आ रहे युवक वीरेंद्र रामू घटाल (19) को सिलवासा सिविल अस्पताल में गंभीर अवस्था में भर्ती कराया गया, जहां पर दूसरे दिन सुबह उसे मृत घोषित कर दिया गया। इस सड़क दुर्घटना में कुल 5 लोग घायल हुए थे, जिसमें 3 लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस ने इस मामले को दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस बड़े सड़क हादसे में जान गंवाने वाले सभी लोगों की उम्र 17 से 25 वर्ष के बीच है और दादरा नगर हवेली के ग्रामीण विस्तारों में जब भी सड़क हादसे होते हैं तो मरने नवयुवक ही होते हैं। आखिर इतनी बड़ी संख्या में मोटरसाइकिल सड़क दुर्घटनाओं में दादरा नगर हवेली के ग्रामीण विस्तारों में युवक अपनी जान क्यों गंवा रहे हैं यह एक यक्ष प्रश्न बनता जा रहा है। लोगों का कहना है कि सड़क हादसों का मुख्य कारण ट्रैफिक नियमों का अवहेलना करना तथा पहाड़ी मार्गों पर रात के समय तेज गति से बाइक चलाना भी युवाओं के जान का दुश्मन बना हुआ है। अगर इसी तरह युवा सड़क नियमों का अनुपालन नहीं करते हैं तो सड़क हादसों को रोक पाना मुश्किल होगा।

Related posts

संघ प्रदेश चुनाव विभाग ने मतदाताओं का नाम शामिल करने के लिए आयोजित किए विशेष शिविर

Vijay Bhatt

5 वर्ष के कार्यकाल में संघ प्रदेश थ्रीडी में अविश्वास से विश्वास का वातावरण बनाया : प्रफुल पटेल

Vijay Bhatt

स्मार्ट सीटी विकास परियोजना की समीक्षा हेतु प्रशासक प्रफुल पटेल ने परामर्शदाताओं एवं अधिकारियों के साथ की बैठक

Vijay Bhatt

Leave a Comment